ताज़ा खबर :
prev next

आतंक पर ‘बेनकाब’ पाकिस्तान! मसूद अजहर के दो ठिकानों का हुआ खुलासा, पाक सेना के जवान करते हैं रखवाली

पढ़िये  tv9hindi की ये खास खबर….

पुलवाला हमले (Pulwama Attack) और 2001 में हुए संसद हमले (2001 Parliament Attack) के गुनहगार जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Muhammed) के प्रमुख मसूद अजहर (Masood Azhar) के दो ठिकानों का खुलासा हुआ है। मसूद अजहर के ये दोनों ठिकाने पाकिस्तान (Pakistan) के बहावलपुर शहर (Bahawalpur) में स्थित हैं। दोनों घर रिहायशी इलाकों में मौजूद हैं और इसके आस-पास दो मस्जिदें भी हैं। इन घरों की रखवाली पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) के जवान कर रहे हैं। यही वजह है कि अजहर के खिलाफ ऑपरेशन शुरू करने में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।

टाइम्स नाउ नवभारत द्वारा नई दिल्ली में राष्ट्रीय सुरक्षा प्रतिष्ठान द्वारा तैयार किए गए एक डोजियर से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, आतंकी मसूद अजहर के दोनों ठिकाने सिर्फ चार किमी दूर हैं। उनमें से एक लाहौर उच्च न्यायालय की बहावलपुर बेंच से सिर्फ एक किमी दूर एक पॉश इलाके में स्थित है, इस इलाके में वीआईपी रहते हैं। भारत के मोस्ट वांटेड आतंकवादियों में से एक, मसूद अजहर 2001 में हुए संसद हमले और 2019 के पुलवामा हमले जैसे बड़े आतंकी हमलों का मास्टरमाइंड है। भारत को लंबे वक्त मसूद अजहर की तलाश है। भारत ने लगातार कहा है कि वह पाकिस्तान में ही छिपा हुआ है।

आतंक को नहीं पालने के दावे की खुली पोल

पाकिस्तान द्वारा आतंकवाद को लगातार बढ़ावा दिया जा रहा है। इस बात की एक बार फिर पुष्टि हो गई है और इस बार आतंकी मसूद अजहर के ठिकानों की रखवाली करने वाले पाकिस्तानी सेना के वर्दीधारी जवान इसका सबूत हैं। ये पाकिस्तान के उन दावों से उलट है, जिसमें वो दावा करता है कि आर्थिक प्रतिबंधों से बचने के लिए वह कार्रवाई कर रहा है। इसके अलावा वह आतंकवाद को बढ़ावा या आर्थिक सहायता नहीं देता है। इससे एक बार फिर इस बात की भी पुष्टि हो गई है कि पाकिस्तान आतंकियों को पनाह देता है और उन्हें सुरक्षा मुहैया कराता है. साथ ही स्टेट पॉलिसी के रूप में आतंक का प्रयोग करता है।

बहावलपुर में कहां मौजूद हैं अजहर के ठिकाने?

मसूद अजहर का पहला ठिकाना उस्मान-ओ-अली मस्जिद के ठीक बगल में स्थित है। ये इलाका राष्ट्रीय हड्डी रोग और सामान्य अस्पताल के पास में मौजूद है। आस-पास एक मस्जिद और एक अस्पताल की वजह से अजहर के खिलाफ ओसामा बिन लादेन (Osama Bin Laden) जैसा ऑपरेशन चलाना लगभग असंभव हो जाता है। आतंकी का दूसरा घर जामिया मस्जिद के बगल में है, जो लाहौर हाई कोर्ट की बहावलपुर बेंच से महज एक किमी की दूरी पर है। वहीं, बहावलपुर जिला कलेक्टर का कार्यालय यहां से महज 3 किमी दूर है। दरअसल, एबटाबाद में हुए घटनाक्रम के बाद से ही पाकिस्तान ये सुनिश्चित कर रहा है कि अजहर के ठिकाने घनी आबादी में हो, ताकि किसी को शक नहीं हो।

साभार-tv9hindi

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!