ताज़ा खबर :
prev next

गाजियाबाद: अधिकारी और पत्रकार बनकर वसूली करने वाले 4 लोग गिरफ्तार

गाजियाबाद। पत्रकार और अधिकारी बनकर वसूली करने वाले गिरोह का खुलासा कर पुलिस ने चार लोगों को गिरफ्तार किया है। गैंग ने नकली पेंट बेचने का आरोप लगाकर एक दुकानदार से 45 हजार रुपये ऐंठ लिए। दुकानदार की सूचना पर पुलिस ने आरोपियों की घेराबंदी की। आशंका है कि बदमाशों ने इस तरह से कई लोगों को ठगा है। कुछ ऐसे लोग भी हैं जो अब तक पुलिस में शिकायत दर्ज कराने नहीं पहुंचे।

रफीकाबाद निवासी नदीम मसूरी के मयूर विहार में सिकरोड़ा रोड पर पेंट्स की दुकान चलाते हैं। शनिवार सुबह करीब 11 बजे कार में सात लोग उनकी दुकान पर पहुंचे। उन्होंने खुद को एशियन पेंट्स कंपनी तथा कॉपीराइट देखने वाले विभाग का अधिकारी बताया। उन्होंने दुकान का कोना-कोना खंगालने के बाद दस्तावेज व बिल देखे। उन्होंने नकली पेंट्स बेचने का आरोप लगाकर दुकान सील करने की बात कही।

इसी बीच गैंग के एक सदस्य ने दुकानदार से कहा कि अगर दुकान सील नहीं करानी है तो मैं अधिकारियों से कुछ बात करूं। दुकान बंद होने और कानूनी पचड़े में फंसने का डर दिखाकर आरोपितों ने नदीम से 2 लाख रुपये मांगे। साथ ही गिरोह के सदस्यों ने कहा कि छापे की सूचना पर मीडिया वाले भी उनके साथ आए हैं। चुपचाप पैसे देकर मामला रफा-दफा कर ले, नहीं तो खबर चलने से बेवजह बदनामी हो जाएगी। दुकानदार ने जैसे-तैसे इंतजाम करके 45 हजार रुपये दे दिए। आरोपी बाकी रकम शाम को लेने आने की बात कहकर चले गए।

बदमाश 2 लाख रुपये में से बाकी बची रकम पहुंचाने के लिए बार-बार कॉल कर रहे थे। शनिवार शाम तक रुपये नहीं पहुंचाने पर केस दर्ज कराने की धमकी दे रहे थे। इससे नदीम को शक हुआ। उन्होंने एशियन पेंट में कॉल किया और पूरे घटनाक्रम की सूचना दी। कंपनी ने बताया कि इस तरह की छापेमारी उनकी तरफ से कभी नहीं की जाती है। कंपनी के अधिकारियों ने फौरन पुलिस में शिकायत की सलाह दी। इसके बाद नदीम ने मसूरी थाना पुलिस को सूचना दी।

इस मामले में पुलिस ने अब तक विजयनगर के शांतिनगर निवासी मनीष कुमार, राजीव नगर हर्ष विहार दिल्ली निवासी अंकुर, माता कॉलोनी नंदग्राम निवासी पवन गौर तथा हिंडन विहार नंदग्राम निवासी मोहम्मद अली को गिरफ्तार किया है। अर्थला निवासी अमरपाल, सेक्टर-23 संजयनगर निवासी नसीम सैफी और चिपियाना गौतमबुद्धनगर निवासी कपिल फरार हैं। सभी आरोपी कभी अधिकारी तो कभी मीडियाकर्मी बन जाते थे।

आपका साथ –

इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!