ताज़ा खबर :
prev next

छात्रों से भरी नाव नदी में पलटी, बाल बाल बचे

आजमगढ़। यूपी के आजमगढ़ जिले के बाढ़ प्रभावित सरयू नदी की शाखा में सोमवार सुबह स्कूली बच्चों से भरी नाव अचानक पलट गई। आनन फानन स्थानीय लोगों ने तत्काल नदी से बच्चों को सुरक्षित निकाल लिया।

रौनापार थाना क्षेत्र के बेलहिया ढाला के पास बना पुल 2020 में बह गया था। तब से यहां नाव के माध्यम से आवागमन होता आ रहा है। सोमवार सुबह करीब सवा आठ बजे अजगरा मगरवी, माधवपुरा, झंझनपुर, झगरहवा, गलसदिया आदि गांव के दर्जन भर बच्चे अजगरा मगर्बी स्थित जूनियर हाईस्कूल जाने के लिए घर से निकले थे। बच्चे ढाला पर पहुंचकर नाव में सवार हो गए। उसी समय एक युवक बृजेश यादव मोटरसाइकिल लेकर पहुंच गया। लोगों ने उसे बाइक चढ़ाने से मना किया लेकिन उसे बीटीसी की परीक्षा देने जाना था इसीलिए उसने अपनी बाइक नाव पर चढ़ा दी। नाव अभी किनारे से थोड़ा ही आगे बढ़ी थी कि अचानक ओवरलोड होने के चलते पलट गई।

इस घटना में नाव पर सवार दर्जन भर स्कूली बच्चों के साथ ही बाइक लेकर चढ़ा बृजेश नदी में गिर गए। आनन-फानन अंगद यादव, बाड़ू यादव, रामशरण यादव आदि ने नदी में कूद कर डूब रहे बच्चों को किसी तरह बाहर निकाला। जबकि बृजेश की बाइक और नाव घाघरा की जलधारा में समाहित हो गई।

अजगरा मगर्बी बेलहिया गांव के प्रधान प्रतिनिधि राजमन यादव ने बताया कि आए दिन इस तरह की घटना होती है। कहा कि ढाला से कुल छह नावों का संचालन किया जाता है।बाइक चढ़ाने से मना करने के बाद भी लोग नहीं मानते। अगर ढाला पर पुलिस कर्मी तैनात कर दिए जाएं, तो इस तरह का हादसा रुक सकता है। कहा कि हम चाहते हैं कि बाइक सवारों के लिए एक नाव अलग कर दिया जाए और बाकी से अन्य लोग यात्रा करें। खासतौर से जब बच्चे सवार हों, तो नाव पर बाइक कतई न चढ़ाई जाए।

आपका साथ –

इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!