ताज़ा खबर :
prev next

18 अक्टूबर से चलेगा संचारी रोग नियंत्रण व दस्तक अभियान

गाजियाबाद। जिला मुख्यालय स्थित कलेक्ट्रेट सभागार में विशेष संचारी रोग नियंत्रण व दस्तक अभियान की बैठक संपन्न हुई। बैठक के दौरान डीएम सुनील कुमार वर्मा ने कहा कि विशेष संचारी रोग नियंत्रण व दिमागी बुखार पर रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठाए जाएं। कार्ययोजना के अनुरूप सौंपे गए दायित्वों का निर्वहन ठीक से करें। उन्होंने दस्तक अभियान के तीसरे चरण के सफल संचालन के लिए समीक्षा बैठक की।

बैठक में राकेश कुमार सिंह ने कहा कि शासन के निर्देश पर संचारी रोग के लिए एक बार फिर अभियान चलाया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग ने 18 अक्टूबर से 17 नवंबर तक अभियान चलाने की योजना बनाई है। अभियान का तृतीय चरण (18 अक्टूबर से 01 नवम्बर, 2021) तक चलाया जा रहा है। इसमें दस्तक अभियान के तहत घर-घर सर्वे कर टीबी, फ्लू, बुखार के रोगियों व कुपोषित बच्चों की जाएगी। उन्होंने 18 अक्टूबर से 17 नवंबर तक चलने वाले इस अभियान में विभिन्न विभागों द्वारा किए जाने वाले कार्यों के बारे में जिम्मेदारी का अहसास कराया। ग्राम विकास, पंचायतीराज, शिक्षा विभाग, दिव्यांग कल्याण, पशुपालन सहित कृषि विभाग द्वारा किए जाने वाले कार्यों, विद्यालय में बच्चों को साफ-सफाई के संबंध में जागरूक करने, मच्छरों से बचाव की जानकारी, छिड़काव, झाड़ियों की कटाई, स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने की समीक्षा करते हुए जिम्मेदारी तय कर प्रभावी कार्रवाई के निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि इस अभियान के अन्तर्गत आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्ती प्रत्येक मकान पर क्षय रोग के संभावित रोगियों के विषय में भी जानकारी प्राप्त करेंगी तथा क्षय रोग के लक्षणों वाले किसी व्यक्ति की सूचना प्राप्त होने पर उस व्यक्ति का नाम, पता व मोबाइल नम्बर सहित सम्पूर्ण विवरण एक लाइन लिस्टिंग फॉर्मेट में अंकित कर क्षेत्रीय एएनएम के माध्यम से ब्लॉक मुख्यालय पर उपलब्ध करायेंगी।

इसी प्रकार नगर क्षेत्रों में नगर निगम, नगर पालिका व ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायती राज विभाग संचारी रोग नियंत्रण अभियान के दौरान विशेष अभियान संचालित करते हुए स्वच्छता पर विशेष ध्यान देकर सफाई का कार्य सुनिश्चित कराते हुए इसके उपरान्त लार्वा कीटनाशक दवाईयों का छिडकाव भी सुनिश्चित करेंगे ताकि कहीं पर भी वैक्टर जनित बीमारियों का प्रकोप न होने पाये।

इसके साथ ही उन्होंने निर्देशित किया कि खराब प्रगति पाये जाने पर सम्बन्धित अधिकारी के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जायेगी। इसके अतिरिक्त सभी विभाग अभियान के अन्तर्गत की जाने वाली कार्यवाहियों के सम्बन्ध में अपनी कार्ययोजना प्रस्तुत करें, जिसमें दिन-प्रतिदिन स्वच्छता व साफ-सफाई अभियान के तहत की जानी वाली कार्यवाही एवं लक्ष्य अनिवार्य रूप से अंकित की जाये। कार्ययोजना के तहत जनपद की सभी ग्राम पंचायतों सहित राजस्व ग्रामों में संचारी रोग की रोकथाम सम्बन्धी गतिविधियाँ यथा साफ-सफाई, कचरा निस्तारण, जल भराव रोकने, शुद्ध पेयजल उपलब्धता पर विशेष ध्यान देते हुए सभी सहयोगी विभागों द्वारा परिवर्तन व प्रचार-प्रसार कराने के निर्देश दिये।

उन्होंने गाजियाबाद विकास प्राधिकरण, नगर निगम, आवास एवं विकास परिषद यूपीसीडा इत्यादि विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया कि वह अपने-अपने अधिनस्थ क्षेत्रों में वृहद स्तर पर स्वच्छता एवं साफ-सफाई अभियान चलायें तथा उसका जनसामान्य के लिए व्यापक प्रचार-प्रसार भी कराये।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अस्मिता लाल, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. भवतोष शंखधर, सचिव गाजियाबाद विकास प्राधिकरण बृजेश कुमार, अपर नगर आयुक्त प्रमोद कुमार, कोविड के नोडल डा. आरके गुप्ता, जिला मलेरिया अधिकारी जीके मिश्रा, जिला पंचायत राज अधिकारी राजेश कुमार सहित अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित रहें।

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!