ताज़ा खबर :
prev next

महानवमी पर अखिलेश यादव ने दे डाली रामनवमी की बधाई

लखनऊ। शारदीय नवरात्रि के आखिरी दिन यानी महानवमी पर यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव रामनवमी की बधाई दे बैठे। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा भी ट्विटर पर यही गलती कर बैठे। हालांकि, ट्रोलिंग के बाद गलती का अहसास होने पर अखिलेश ने पुराने ट्वीट को डिलीट कर नया ट्वीट किया जिसमें महानवमी की बधाई दी।

अखिलेश यादव ने महानवमी की मंगलकामना देने को लेकर दो ट्वीट किए। पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा कि, “आपको और आपके परिवार को रामनवमी की अनंत मंगलकामनाएं।” इसपर जब लोगों ने उन्हें ट्रोल किया तो उन्होंने उस ट्वीट को डिलीट कर दिया। वहीं दूसरा ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा- आपको और आपके परिवार को महानवमी की अनंत मंगलकामनाएं!

बीजेपी नेता अमित मालवीय ने अखिलेश पर हमला साधा। उन्होंने कहा कि कारसेवकों पर गोली चलाने वाले ढोंग कर रहे हैं। चुनाव आते ही हिन्दू बनने का ढोंग करते हैं। योगी सरकार के सूचना सलाहकार शलभमणि त्रिपाठी ने लिखा कि, “प्रभुराम,राजा दशरथ के पुत्र हैं,लक्ष्मण उनके भाई हैं,वे अयोध्या के राजा थे,उन्होंने रावण का वध किया,रावणराज लंका में था ये जानकारी आप व उन सभी ‘नए नवेले’ हिंदुओं के लिए जो हिंदुओं से प्रचंड नफ़रत करते हैं, परंतु चुनावी मौसम में हिंदू बने घूम रहे और हाँ आज रामनवमी नहीं महानवमी है।”

संबित पात्रा ने ट्वीट किया कि जिन लोगों ने श्री राम भक्तों पर गोली चलायी थी। आज चुनावी डर से प्रभु श्री राम उनके सपनो में भी आने लगें है। आज वो राम नवमी की बधाई दें रहें है बधाई हो। बीजेपी उत्तर प्रदेश ने ट्वीट कर कहा कि जिस अखिलेश यादव जी को यह तक नहीं पता कि रामनवमी और महानवमी में क्या अंतर है, वो ‘राम’ और ‘परशुराम’ की बात करते हैं। जनता को मत पहनाइए ‘टोपी’, वह आप पर ज्यादा अच्छी लगती है।

हरियाणा के हिसार से यूथ कांग्रेस के एक नेता ने भी ऐसी ही गलती की। कृष्ण सत्रोद नाम ने तो बाकायदे भगवान राम के पोस्टर के साथ रामनवमी की शुभकामनाएं दी हैं। दरअसल, रामनवमी चैत्र नवरात्रि में पड़ता है। शारदीय नवरात्रि में नवमी को महानवमी कहते हैं और उस दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा होती है।

आपका साथ – इन खबरों के बारे आपकी क्या राय है। हमें फेसबुक पर कमेंट बॉक्स में लिखकर बताएं। शहर से लेकर देश तक की ताजा खबरें व वीडियो देखने लिए हमारे इस फेसबुक पेज को लाइक करें। हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें। हमसे ट्विटर पर जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक कीजिए।

हमारा गाजियाबाद के व्हाट्सअप ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!