ताज़ा खबर :
prev next

अब बच्चों के चैनल पर नहीं नज़र आएंगे जंक फूड के विज्ञापन

नई दिल्ली | केंद्र सरकार ने आज लोकसभा में बताया कि जंक फूड से जुड़े भ्रामक विज्ञापनों के खिलाफ जागरूकता फैलाई जा रही है और नौ बड़ी जंक फूड बनाने वाली कंपनियों ने बच्चों के चैनलों पर इस तरह के विज्ञापन नहीं देने का वादा किया है। लोकसभा में विनायक राउत के प्रश्न के उत्तर में सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री राज्यर्वधन सिंह राठौड़ ने आज यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि भ्रामक विज्ञापनों के प्रसारण के संदर्भ में भारतीय खाद्य सुरक्षा मानक प्राधिकरण (एफएसएसआई) ने 11 सदस्यीय समिति गठित की थी और इस समिति ने अपनी रिपोर्ट दी और इस पर अमल हो रहा है। मंत्री ने कहा कि इस संदर्भ में एफएसएसआई और भारतीय विज्ञापन मानक परिषद के बीच भी समझौता हुआ है। उन्होंने कहा कि नौ नामी फूड कंपनियों ने भरोसा दिलाया कि वे ऐसे विज्ञापन नहीं देंगे।


आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।