ताज़ा खबर :
prev next

घरेलू नुस्खे: कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए अपनाएं ये 8 उपाय

गाज़ियाबाद। आज की बदलती लाइफस्टाइल के कारण हम कई बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं। न तो हम पौष्टिक आहार ले पाते हैं और ना ही रोज एक्सरसाइज व योगा कर पाते हैं। खाने में हमें जो मिल जाए, वही खा लेते हैं, जिसके कारण बाद में विभिन्न प्रकार की बीमारियों से जूझते रहते हैं।

आज हम आपको कोलेस्ट्रॉल के बारे में बताने जा रहे हैं। इसका सीधा संबंध हमारे दिल से है। एक बार कोलेस्ट्रॉल की प्रॉब्लम हो जाने के बाद हमेशा खाते समय सावधान रहना पड़ता है। कोलेस्ट्रॉल से निजात पाने के लिए सही खान-पान का पता होना बेहद जरूरी है। इसे कम करने के लिए कई तरह के खाद्य पदार्थों को आहार में शामिल करना आवश्यक है।

क्या है कोलेस्ट्रॉल?
कोलेस्ट्रॉल एक वसायुक्त तत्व है, जो लिवर से उत्पन्न होता है। यह शरीर के सही तरीके से काम करने में मददगार होता है। यह शरीर के लिए जरूरी भी है, लेकिन इसकी ज्यादा मात्रा से हार्ट अटैक व स्ट्रोक का खतरा रहता है।

दो तरह के होते हैं कोलेस्ट्रॉल
कोलेस्ट्रॉल दो तरह का होता है, एलडीएल (लो डेन्सिटी लिपोप्रोटीन) और एचडीएल (हाई डेन्सिटी लिपोप्रोटीन)

एलडीएल
एलडीएल को खराब कोलेस्ट्रॉल माना जाता है। ये कोलेस्ट्रॉल को लिवर से कोशिकाओं में ले जाता है। अगर इसकी मात्रा ज्यादा हो जाती है तो यह कोशिकाओं में इकट्ठा हो जाता है और नुकसान पहुंचाता है। इसके कारण रक्त का प्रवाह ठीक से नहीं हो पाता।

एचडीएल
एचडीएल को अच्छा कोलेस्ट्रॉल माना जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक यह दिल से जुड़ी बीमारी व स्ट्रोक को रोकता है। एचडीएल, कोलेस्ट्रॉल को कोशिकाओं से लिवर में ले जाता है।

अगर आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा अधिक है तो यह सही नहीं है। इससे दिल की बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप खानपान में जरूरी चीजों को शामिल करें,तो कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल किया जा सकता है।

कैसे कम करें कोलेस्ट्रॉल?

1. ऑलिव ऑयल
खाना बनाने में तेल की सबसे महत्वपूर्ण भूमिका होती है, लेकिन ज्यादा तेल सेहत के लिए हानिकारक है। वैसे तो उबला खाना सेहत के लिए फायदेमंद होता है। लेकिन, रोज ऐसा खाना नहीं खाया जा सकता है। इसलिए, हमेशा ऐसे खाद्य तेल का इस्तेमाल करें,जो आपकी सेहत को नुकसान न पहुंचाए। साथ ही खाना बनाते समय तेल की मात्रा का खास ध्यान रखें। खराब कोलेस्ट्रॉल का स्तर घटाने के लिए आप ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसमें बना खाना खाने से कोलेस्ट्रॉल की मात्रा में 8 फीसदी तक कमी आती है। साथ ही यह हाई ब्लडप्रेशर और शुगर लेवल को भी कंट्रोल करता है।

2. ओट्स
ओट्स यानी की जई को अगर आप रोज अपने नाश्ते में शामिल करते हैं,  तो 6 फीसदी एलडीएल कम हो सकता है। इसमें बीटा ग्लूकॉन नाम का गाढ़ा चिपचिपा तत्व हमारी आंतों को साफ करता है और कब्ज की शिकायत दूर करता है। इसे खाने से शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) की शिकायत नहीं रहती।

3. फाइबर
डॉक्टरों द्वारा रोज 20-35 ग्राम फाइबर लेने की सलाह दी जाती है। अगर आप एलडीएल कोलेस्ट्रॉल घटाना चाहते हैं, तो कम-से-कम 10 ग्राम फाइबर जरूर लें।

4. सोयाबीन
सोयाबीन से बना सोया मिल्क, दही या टोफू का सेवन करने से एलडीएल कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है। ये पदार्थ एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को बाहर निकालने में लिवर की मदद करते हैं और अच्छे कोलेस्ट्रॉल (एचडीएल) को बढ़ाते हैं। एक दिन में 25 ग्राम सोयाबीन लेने से एलडीएल कोलेस्ट्रॉल काफी हद तक घटाया जा सकता है। यह 6 फीसदी खराब कोलेस्ट्रॉल घटाने में मददगार होता है।

5. बीन्स
एलडीएल कोलेस्ट्रॉल की मात्रा कम करने के लिए बीन्स खाएं। अगर आप अपनी डाइट में डेली आधा कप बीन्स शामिल करते हैं, तो आपके दिल के लिए बहुत अच्छा है। यह कोलेस्ट्रोल की मात्रा 5-6 फीसदी कम करता है। ये फाइबर की जरूरत को पूरा करता है।

6. साबुत अनाज
साबुत अनाज को आहार में जरूर शामिल करना चाहिए। यह शरीर को बहुत फायदा पहुंचाते हैं। साबुत अनाजों को अंकुरित करके खाने से दिल की बीमारी होने की आशंका कम होती है।

7. ड्राय फ्रूट्स
बादाम, अखरोट और पिस्ते में फाइबर पाया जाता है। ये खराब कोलेस्ट्रॉल को कम और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं। खाना खाने के बाद अखरोट खाने से दिल की बीमारी का खतरा कम हो जाता है।

8. नीबू
नीबू व अन्य खट्टे फलों में विटामिन-सी होता है। घुलनशील फाइबर होने की वजह से ये फल एलडीएल कोलेस्ट्रॉल को रक्त प्रवाह में जाने से रोकते हैं। इन खट्टे फलों में ऐसे एंजाइम्स भी पाए जाते हैं, जो मेटाबॉलिज्म की प्रक्रिया तेज करके खराब कोलेस्ट्रॉल को शरीर से बाहर निकालते हैं।

 

 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।