ताज़ा खबर :
prev next

तगादा करने पर बदमाशों ने व्यापारियों को पीटा, विरोध में बाजार बंद

गाज़ियाबाद। मोदीनगर थाना क्षेत्र अंतर्गत गुरुद्वारा रोड पर शुक्रवार को तगादा करने पर समुदाय विशेष के जुड़े युवकों ने किराना व्यापारी से मारपीट की। घटना के विरोध में व्यापारियों ने बाजार बंद कर धरना दिया। अधिकारियों की मान मनव्वल का भी व्यापारियों पर कोई असर नहीं हुआ। व्यापारी घटना में शामिल सभी आरोपियों की तत्काल गिरफ्तारी की मांग पर अड़े थे। पुलिस ने कई संदिग्धों को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया था। सुरक्षा की पुष्टि  से मौके पर भारी पुलिसबल तैनात कर दिया गया है।

आदर्शनगर कॉलोनी निवासी विपिन सिंहल की गुरुद्वारा रोड पर किराने की दुकान है। शुक्रवार दोपहर को विपिन अपनी दुकान पर ग्राहकों को सामान दे रहे थे। आरोप है कि दवईनगर निवासी दूसरे समुदाय के कुछ युवक विपिन की दुकान पर पहुंचे और उन्होंने विपिन पर यह कहते हुए हमला कर दिया कि जो भी दुकानदार उन्हें सामान देता है, उसकी पैसा मांगने की उनसे हिम्मत नहीं है। आरोप है कि दबंगों ने विपिन पर तमंचे व धारदार हथियार से वार किए। जिससे वे गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें बचाने आए पड़ोसी दुकानदार रोहित को भी आरोपियों ने जमकर पीटा। मौके पर भीड़ इकट्ठा होती देख आरोपी हवा में हथियार लहराते हुए फरार हो गए।

व्यापारियों ने आरोपियों पर गल्ले में रखी 12 हजार की रकम व रोहित के गले से सोने की चेन लूटने का आरोप भी लगाया। दोनों व्यापारियों से मारपीट की घटना बाजार में आग की तरह फैल गई। नाराज व्यापारियों ने बाजार बंद कर हंगामा शुरू कर दिया। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची तो पुलिस को देखकर व्यापारी और ज्यादा आक्रोशित हो गए। व्यापारियों ने गुरुद्वारा रोड पर रास्ते में तख्त डालकर लोगों की आवाजाही बंद कर दी और वे धरने पर बैठ गए। व्यापारियों ने पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। उनका आरोप था कि दूसरे समुदाय के लोग लगातार व्यापारियों पर हमले कर रहे हैं और पुलिस मूकदर्शक बनी रहती है।

व्यापारियों का यह भी कहना था कि वे गुरुद्वारा रोड पर गश्त बढ़ाने के लिए कई बार मांग कर चुके हैं, लेकिन आज तक इस पर किसी भी अधिकारी ने विचार नहीं किया। मामला बढ़ता देख मौके पर एसपी देहात अर¨वद मौर्य, एसडीएम पवन अग्रवाल, एसएचओ गजेंद्रपाल ¨सह भारी पुलिसबल के साथ पहुंच गए। सुरक्षा की ²ष्टि से मौके पर निवाड़ी, भोजपुर, मुरादनगर आदि का पुलिसबल भी तैनात कर दिया गया।

अधिकारियों ने व्यापारियों को कड़ी कार्रवाई का भरोसा देकर मामले को शांत करने कराने का प्रयास किया, लेकिन उनके प्रयास का भी कोई असर नहीं हुआ। व्यापारियों ने अधिकारियों का बाजार खोलने का प्रस्ताव भी ठुकरा दिया।गुस्साए व्यापारियों ने घटना में शामिल सभी आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार किए जाने की मांग की। पुलिस ने ताबड़तोड़ दबिशें देकर कई संदिग्धों को हिरासत में ले लिया। इसके बाद पुलिस मारपीट के शिकार दोनों व्यापारियों को डाक्टरी परीक्षण के लिए ले गई।

पीड़ित विपिन की तहरीर पर पुलिस ने किदवईनगर निवासी शकील, नौशाद समेत 4-5 अज्ञात के खिलाफ जानलेवा हमले, लूटपाट समेत अन्य गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली। उधर, देर शाम तक व्यापारी बाजार बंद कर धरने पर बैठे हुए थे। गुरुद्वारा रोड पूरी तरह छावनी में तब्दील कर दिया गया। इस बारे में एसएचओ गजेंद्रपाल सिंह का कहना है कि स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। किसी भी सूरत में आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। जिन लोगों की भूमिका सामने आएगी, उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। वहीं, घटना के बाद व्यापारियों के बीच पूर्व विधायक सुदेश शर्मा, भाजपा नेता डा. पवन सिंहल, दिनेश सिंहल, व्यापारी नेता महेश तायल, सभासद ललित त्यागी आदि लोग पहुंचे और अधिकारियों से कड़ी कार्रवाई की मांग की।

 

 

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।