ताज़ा खबर :
prev next

चाचा-भतीजा गैंग का सरगना गिरफ्तार, लूटा गया माल बरामद

गाजियाबाद। मोदीनगर की निवाड़ी पुलिस ने चाचा-भतीजा गैंग के सरगना को गिरफ्तार कर लिया है। निशानदेही पर लूटा गया माल भी बरामद किया गया है। इस मामले में दो आरोपियों को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। चाचा-भतीजा गैंग के सरगना पर लूट, हत्या, डकैती आदि के 18 मुकदमे पश्चिमी यूपी के विभिन्न थानों में दर्ज हैं।

एसओ निवाड़ी रवेंद्र सिंह ने बताया कि चाचा-भतीजा गैंग का पश्चिमी यूपी के बागपत, मेरठ, गाजियाबाद, हापुड़ आदि में पूरा आंतक है। आरोपियों ने पिछले दिनों निवाड़ी में भी कई वारदातों को अंजाम दिया था। 4 फरवरी को मां बेटे से नकदी, जेवर व एपल कंपनी का मोबाइल लूटा था। इसी के पर्दाफाश में पुलिस जुटी थी। मामले में गैंग के दो शातिरों को पुलिस ने पहले गिरफ्तार कर उनके कब्जे से लूटा गया कुछ सामान भी बरामद किया था। जबकि आरोपित चाचा दिलशाद जो गैंग का सरगना है, फरार चल रहा था।

भतीजा आबिद को पहले पहले ही पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। एसओ ने बताया कि दिलशाद निवासी तिलपनी, थाना सिंघावली अहीर, जिला बागपत को मंगलवार रात को गिरफ्तार कर लिया गया। उसके कब्जे से पीड़ित का मोबाइल, मोटरसाइकिल, एक तमंचा व लूटी गई रकम भी बरामद की गई। आरोपी से बरामद मोटरसाइकिल को उन्होंने पूर्व में दिल्ली से चोरी किया था।

आरोपी चोरी के वाहनों से ही लूटपाट की वारदातों को अंजाम देते थे। आरोपी बड़े शातिर किस्म का है। गैंग में सभी सदस्य पशुओं को खुरी बांधने के बहाने गांवों में जाते थे। पूरी स्थिति का पता करने के बाद वे रात को एक जगह इकट्ठा होकर लूटपाट की वारदातों को अंजाम देते थे। एसओ ने बताया कि लूटपाट करने वाले इस गैंग में चाचा-भतीजा के अलावा अधिकांश एक ही परिवार के सदस्य शामिल रहते थे। उनका आसपास के क्षेत्र में पूरा आतंक था।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।