ताज़ा खबर :
prev next

रिश्वत मांगने वाले दरोगा का वीडियो वायरल, निलंबित

गाज़ियाबाद। विजयनगर क्षेत्र अंतर्गत अकबरपुर-बहरामपुर में चार हजार वर्ग गज के प्लॉट के मालिकाना हक को लेकर दर्ज केस में एक पक्ष की रिपोर्ट बना चार्जशीट लगाने के लिए 15 लाख रुपये की रिश्वत मांगने वाले दरोगा का वीडियो वायरल होने के बाद एसएसपी ने चौकी प्रभारी को सस्पेंड कर दिया है। वीडियो में दारोगा काम करने के लिए 15 लाख रुपये मांगता है।

16 लाख रुपये की पेशकश होने पर वह कहता है कि इतने रुपयों में तो एसएसपी ही दूसरे पक्ष को जेल भेज देंगे। वीडियों में वह दो लाख एडवांस में मांग रहा है। साथ ही कुछ पैसे लेते हुए भी दिख रहा है। एसएसपी हरि नारायण सिंह का कहना है कि दारोगा अनिल कुमार विजयनगर थाने की जल निगम चौकी पर इंचार्ज है। उसे सस्पेंड कर विभागीय जांच भी बिठा दी है।

वीडियो वायरल करने वाले नोएडा निवासी पृथ्वी सिंह का कहना है कि उनकी अकबरपुर-बहरामपुर में चार हजार वर्ग गज जमीन है। आरोप है कि उनकी जमीन को आबकारी विभाग के रिटायर्ड अफसर ने अपने रिश्तेदारों और साथियों के साथ मिलकर कब्जा रखा है। फर्जी दस्तावेजों के आधार पर अधिकारी ने जमीन को अपनी पत्नी के नाम दिखाया था। विरोध पर रिटायर्ड अफसर ने उनके ही खिलाफ 2016 में विजयनगर थाने में रिपोर्ट दर्ज करा दी थी। पुलिस ने उन्हें जेल भी भेज दिया था। इसके बाद उन्होंने तत्कालीन डीएम से शिकायत की।

डीएम की जांच टीम ने रिपोर्ट उनके पक्ष में दी और रिटायर्ड अफसर के कब्जे को अवैध माना। कोर्ट के माध्यम से 2017 में रिटायर्ड अफसर समेत 9 लोगों के खिलाफ विजयनगर थाने में केस दर्ज कराया। इसमें पुलिस ने एफआर लगा दी। पीड़ित फिर से कोर्ट गए और दो माह पहले कोर्ट के आदेश पर 12 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ।

आरोप है कि जांच अधिकारी अनिल कुमार ने जांच उनके पक्ष में करने और चार्जशीट लगाने के नाम पर उनसे दो लाख रुपये मांगे। 50 हजार रुपये उन्होंने दे दिए। इसके बाद मांग बढ़ाकर 10 लाख और फिर 15 लाख रुपये कर दी। इसके चलते उन्होंने आरोपित दारोगा का वीडियो बनाने की प्लान बनाया। आरोप है कि वीडियो में 20 हजार रुपये और दिए थे।

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।