ताज़ा खबर :
prev next

दिल्ली के कनॉट प्लेस में दिनदहाड़े फायरिंग, मनी चेंजर घायल

दिल्ली। राजधानी के वीआईपी कनॉट प्लेस इलाके में बुधवार दिनदहाड़े लूटपाट का विरोध करने पर दो बदमाशों ने मनी चेंजर को गोली मार दी। जख्मी हालत में उसे लेडी हार्डिंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसका इलाज चल रहा है। उधर वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर आरोपी फरार हो गए। बदमाशों का फिलहाल कोई सुराग हाथ नहीं लगा है। वीआईपी इलाके में सरेआम हुई लूटपाट की इस वारदात ने पुलिस की नींद उड़ा दी है। बहरहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच आरंभ कर दी है।

मामले की जांच में जुटी पुलिस ने आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज खंगाल बदमाशों की पहचान की कोशिश कर रही है। इलाके के ज्वाइंट कमिश्नर अजय चौधरी का कहना है कि बदमाशों की तलाश में हमने पांच टीमें लगाई है। हमारी टीम फटेज व घायल द्वारा बताए गए हुलिये के आधार पर बदमाशों की तलाश में छापेमारी कर रही है। हालांकि मनी चेंजर के हाथ से बदमाश बैग नहीं लूट पाए। घायल की पहचान रोहिणी सेक्टर-2 निवासी सतबीर सिंह चौधरी के रूप में हुई है।

लूटपाट के लिए मनी चेंजर को गोली मारने की यह वारदात नई दिल्ली के वीआईपी व अति व्यस्ततम इलाके में शुमार कनॉट प्लेस के इनर सर्किल स्थित ए ब्लॉक में सुबह करीब साढ़े दस बजे हुई। घायल सतबीर सिंह चौधरी अपने घर से कार्यालय आने के लिए निकले थे। वह मेट्रो स्टेशन से बाहर निकले और जैसे ही अपने कार्यालय की तरफ जाने लगे, तभी वारदात हुई।

मनीचेंजर द्वारा पुलिस को दिए गए बयान के मुताबिक उनके हाथ में एक बैग था। इस बैग में उन्होंने नगदी और कुछ दस्तावेज रखे थे। अचानक ही दो बदमाशों ने उनसे बैग लूटने का प्रयास किया। उन्होंने इसका विरोध किया तो एक बदमाश ने उन्हें गोली मार दी। उनके गिरते ही दोनों बदमाश भीड़ को देखते हुए पकड़े जाने के डर से वहां से फरार हो गए।

पुलिस के मुताबिक मनी चेंजर सतवीर की कमर में गोली लगी है। उनका इलाज चल रहा है। उनकी हालत गंभीर है लेकिन खतरे के बाहर बताई जा रही है। उधर इस घटना के बाद इलाके लोगों में भय व्याप्त है। लोगों का कहना है कि बदमाश सरेआम भीड़भाड़ वाले इलाके में वारदात को अंजाम दे रहे हैं। जबकि पुलिस मूक दर्शक बनी हुई है। अगर पुलिस की चौकसी होती तो शायद यह वारदात नहीं होती।

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।