ताज़ा खबर :
prev next

सात फेरों से पहले दुल्हन ने किया शादी से इंकार, जानिये क्या थी वजह

गाज़ियाबाद। बारात दरवाजे पर थी, हरतरफ खुशियों का माहौल था। मंडप सज चुका था और शादी की सभी रस्म अदायगी के बाद सबको दूल्हा-दुल्हन के फेरे लेने का इंतजार था। इसी बीच कुछ ऐसा हुआ जिसने चंद मिनटों में सबकुछ बदल दिया। मंडप में अचानक पंडित जी की ओर से लड़के का गोत्र पूछने पर सभी को उसकी जाति का पता चल गया। जैसे ही पता चला कि दूल्हा दूसरी जाति का है दुल्हन से ऐन वक्त पर शादी करने से मना कर दिया।

आइये बताते हैं आपको आखिर क्या हुआ था। यह पूरी घटना धौलाना की है। थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी व्यक्ति हापुड़ में किसी आढ़ती के पास नौकरी करता है। एक दिन आढ़ती ने व्यक्ति से कहा कि तेरी बेटी के लायक एक अच्छे घर का रिश्ता है। उसकी बात पर विश्वास कर हापुड़ निवासी एक युवक के साथ रिश्ता तय हो गया। इसमें तय हुआ कि बेटी पक्ष शादी में खर्च होने वाले साढे़ तीन लाख रुपये लड़का पक्ष को देगा। इसके अलावा हापुड़ में ही सात मार्च को बेटी पक्ष गांव से यहां आकर शादी करेगा।

तय कार्यक्रम के अनुसार शादी की तैयारियां हो गई। इस दौरान फेरों से ठीक पहले पंडित द्वारा दूल्हा से गोत्र पूछने के दौरान जब पता चला कि दूल्हा दूसरी जाति का है दुल्हन भड़क उठी और शादी करने से इंकार कर दिया। दोनों पक्षों में विवाद की स्थिति बन जाने पर दुल्हन ने फेरे लेने से मना कर दिया। तीन दिन पूर्व हुई घटना पर दूल्हा पक्ष की ओर से दुल्हन पक्ष से विवाह के दौरान खर्च हुए लाखों रुपये की मांग पूरा न करने पर जान से मारने की धमकी देने पर थाना पहुंचे परिजनों ने दूल्हा पक्ष पर आवश्यक कार्रवाई की बात कही।

थाना प्रभारी निरीक्षक का कहना है कि मामला संज्ञान में आया है। दोनों को बुलाकर पक्ष सुने जाएंगे। दूल्हा पक्ष ने कहा कि शादी कराने का जिम्मा उठाने वाले बिचौलिया ने जानबूझ कर उनके साथ धोखा कराया है।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।