ताज़ा खबर :
prev next

रजिस्ट्रेशन है ट्रेलर का और चला रहे हैं ऑटो, एक नहीं अनेक उदाहरण हैं गाज़ियाबाद में

गाज़ियाबाद | आज सुबह जब हमारा गाज़ियाबाद की टीम संजय नगर स्थित संयुक्त अस्पताल के पास पहुंची तो वहाँ हमें एक ऑटो मिला जिसका नंबर दूर से तो पढ़ा ही नहीं जा रहा था। जब हमारी टीम ने पास जाकर नंबर पढ़ा तो उस ऑटो का नंबर था UP14GT 4086। नंबर देख कर हमें थोड़ा शक हुआ। हमने ऑटो चालक से गाड़ी के कागजों के बारे में जानकारी मांगनी चाही तो ऑटो का ड्राईवर सवारी से पैसे लिए बिना ही भाग खड़ा हुआ। ऑटो के रजिस्ट्रेशन के बारे में जब परिवहन मंत्रालय की वेबसाइट पर पता किया तो पाया कि यह नंबर एक ट्रेलर को मिला हुआ है किसी ऑटो रिक्शा को नहीं।

क्या होगा जब ऐसे ही किसी ऑटो में सवार किसी महिला के साथ कोई बदतमीजी हो ? क्या दिए गए नंबर के आधार पर पुलिस कभी अपराधी तक पहुँच पाएँगी? यह अपने आप में कोई एक अकेली घटना नहीं है। गाज़ियाबाद में ऐसे कितने ऑटो रिक्शा अवैध रूप से चल रहे हैं इस प्रश्न का जवाब न तो गाज़ियाबाद की यातायात पुलिस के पास है और न ही परिवहन विभाग के पास। यदि जिला प्रशासन शहर की सड़कों पर अवैध रूप से चल रहे ऑटो रिक्शाओं को बंद करना चाहता है तो उसे जल्द ही प्रभावी कदम उठाने होंगे।

क्या आपका जल्दी पहुँचना इतना जरूरी है? जरा सोचिए !

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel