ताज़ा खबर :
prev next

आईएमटी में दीक्षांत समारोह आयोजित, 593 विद्यार्थियों को मिली डिप्लोमा डिग्री

गाज़ियाबाद। आईएमटी कॉलेज में सोमवार को दीक्षांत समारोह बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर एचसीएल के संस्थापक शिव नादर बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित थे। आईएमटी गवर्निंग काउंसिल के सदस्य कमलनाथ ने इस अवसर पर स्नातक छात्रों को डिप्लोमा की डिग्री दी। डिप्लोमा पाने वालों में पीजीडीएम, मार्केटिंग पीजीडीएम, वित्तीय पीजीडीएम, डीसीपी पीजीडीएम व कार्यकारी पीजीडीएम के कुल 593 छात्र शामिल रहे।

इस दौरान 2018 की बैच से ईशा कौशल को उल्लेखनीय प्रभाव और उपलब्धियों की गुणवत्ता के साथ उनके सर्वांगीण प्रदर्शन के लिए विशिष्ठ जैन मेमोरियल पुरस्कार विजेता घोषित किया गया। इसके अलावा सभी छह कार्यक्रमों के शीर्षस्थ विद्यार्थियों को गोल्ड और रजत पदक के पुरस्कार के साथ स्वीकार किया गया।

दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि शिव नादर ने कहा कि विद्यार्थियों को यह समझना होगा कि हर एक किसी के सामने लंबा जीवन है। तैयार रहें, दुनिया की खोज करें और जीवन के साथ हर दिन नए प्रयोग करें। सपने जरुर देखें और उन्हें प्राप्त करने की कोशिश करते रहे क्योंकि आपके सपने ही हैं जो आपको दूसरों से अलग बनाते हैं।

वहीं आईएमटी गवर्निंग काउंसिल के अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि प्रौद्योगिकी रोमांचक अवसरों की पेशकश कर रही है। विश्व अर्थव्यवस्था और विश्व के सामाजिक परिवेश बहुत गतिशील हो गए हैं। उन्होंने आगे कहा कि जहां भी आप काम करते हैं वहां आपको स्वयं को तथा अपने संगठन को वर्तमान की मांगों को पूरा करने और भविष्य की चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार करना होगा।

इसके अलावा कुछ नए आगामी प्रयासों के बारे में बताते हुए डॉ. अतीश ने कहा कि आज जब हम उद्योग के समर्थन में शिक्षा की बात करते हैं लेकिन हमने पहले से ही इस पर काम करना शुरू कर दिया है। दीक्षांत समारोह का समापन राष्ट्रगान के साथ हुआ।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।