ताज़ा खबर :
prev next

गांव व सार्वजनिक जमीन पर अवैध कब्ज़ा करने वाले जायेंगे जेल- डॉ प्रभात कुमार

गाज़ियाबाद। आयुक्त मित्र दिवस में मंडलायुक्त प्रभात कुमार ने गुरुवार को विभिन्न प्रकरणों का निस्तारण किया। इस दौरान उन्होंने मुरसलीन के प्रकरण में राज्य सरकार एवं सेन्ट्रल डिस्टलरी की भूमि को अवैध रुप से खरीदने वालों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने व एन्टी भू-माफिया के अन्तर्गत कार्यवाही करने के लिये निर्देशित किया। डा0 प्रभात कुमार ने कहा कि ग्राम समाज व सार्वजनिक भूमि पर अवैध कब्जा करने वालों को जेल भेजा जाए।

उन्होंने कहा कि भूमाफियाओं पर प्राथमिकी दर्ज कर उनको एन्टी भूमाफिया में निरुद्ध करें। डा0 प्रभात कुमार ने उपजिलाधिकारी सदर को निर्देश दिया कि कि राज्य सरकार एवं सेन्ट्रल डिस्टलरी की भूमि को जिन अनाधिकृत व्यक्तियों द्वारा बैनामे के माध्यम से खरीदा गया है उनकी सूची बनाकर एफआईआर दर्ज करायी जाये तथा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के स्तर से उक्त व्यक्तियों के विरूद्ध एन्टी भू-माफिया के अन्तर्गत कार्यवाही की जाये।

मंडलायुक्त ने कहा कि ऐेसे व्यक्ति जो कि भूमि के मालिक नहीं है, उनके द्वारा अनाधिकृत रूप से किये गये बैनामों का कोई मतलब नही है इसलिए अधिकारी बैनामो में निहित सम्पत्ति पर कब्जा प्राप्त करने की कार्यवाही करें। उन्होंने मेरठ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष निर्देश दिया कि स्थलीय निरीक्षण कराकर जांच करायें कि उक्त भूमि पर बनाये गये भवनों के मानचित्र स्वीकृत हैं, अथवा नहीं। यदि ऐसा नही है तो प्राधिकरण स्तर से प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित की जाये।

वहीं एक अन्य प्रकरण में उमेश कुमार पुत्र स्व0 श्री ओमप्रकाश, निवासी-ग्राम इटायरा, मंगी कालोनी, थाना परतापुर मेरठ के प्रकरण के निस्तारण हेतु कार्यवाही की गयी। इस अवसर पर उपाध्यक्ष एमडीए साहब सिंह सैनी, सचिव, गाजियाबाद विकास प्राधिकरण मनमोहन शर्मा, उपजिलाधिकारी सदर, मेरठ निशा अनन्त, तहसीलदार सदर मेरठ संतोष कुमार, राजस्व निरीक्षक रनविजय सिंह, कृष्णपाल, लेखपाल अनिल कुमार, राकेश गौड, शिकायतकर्ता पूनम अग्रवाल, मुरसलीन, पेशकार शरद गुप्ता आदि उपस्थित रहे।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।