ताज़ा खबर :
prev next

दिलशाद गार्डन से नया बस अड्डा फिर खिसकी मेट्रो की डेडलाइन

गाज़ियाबाद। दिलशाद गार्डन से नया बस अड्डा तक मेट्रो का संचालन जून में शुरू नहीं हो पाएगा। इस प्रोजेक्ट की समीक्षा के बाद जीडीए उपाध्यक्ष ने साफ कर दिया कि इस कॉरिडोर पर मेट्रो का सफर करने के लिए थोड़ा और इंतजार करना होगा। केंद्र सरकार से अब तक इसकी डीपीआर मंजूरी नहीं दी है। ऐसे में कॉरिडोर तैयार हो भी जाए जो उस पर मेट्रो को दौड़ाना संभव नहीं होगा। फंड की दिक्कत बनी हुई है। इन्हीं अड़चनों की वजह से जल्द प्रोजेक्ट की नई डेडलाइन तय होगी।

जीडीए उपाध्यक्ष रितु माहेश्वरी ने बताया कि जिस गति से निर्माण कार्य, डीपीआर मंजूरी और फंडिंग की प्रक्रिया चल रही है। उसे देखते हुए जून में मेट्रो का संचालन शुरू नहीं हो पाएगा। केंद्र सरकार से इसकी परियोजना की डीपीआर मंजूर होने में वक्त लग रहा है। लंबे वक्त से डीपीआर केंद्र सरकार के पास है। वहां से मंजूरी को लेकर निर्णय नहीं हो पाया है। उनकी मंजूरी के बगैर इस कॉरिडोर पर संचालन नहीं हो सकता। उन्होंने बताया कि शासन में नगर निगम के अंशदान को लेकर मामला लंबित चल रहा है। कई बार इस पर जल्द निर्णय के लिए शासन को पत्र भेजा गया है। उस पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई है। उन्होंने बताया कि यूपीएसआइडीसी और आवास विकास परिषद की ओर से फंडिंग धीमी है। केंद्र सरकार का अंशदान भी नहीं मिल पा रहा है। एक स्टेशन पर फायर एस्केप बनाने का मामला भी अभी सुलझ नहीं पा रहा है।

पहले अप्रैल में इस कॉरिडोर का संचालन शुरू करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। डीएमआरसी ने मुश्किलों को देखते हुए जीडीए को बताया था कि वह इस तिथि तक संचालन शुरू नहीं कर पाएंगे। तब नई डेडलाइन जून तय हुई थी। इस पर भी संचालन शुरू नहीं हो पाएगा। बार-बार डेडलाइन बदलने से लोगों मायूसी हाथ लग रही है। लोग जल्द से जल्द मेट्रो का सफर करना चाहते हैं। जिस पर सरकारी तंत्र बार-बार पानी फेर रहा है।

हमारा गाज़ियाबाद के एंड्राइड ऐप के लिए आप यहाँ क्लिक कर सकते हैंआप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।