ताज़ा खबर :
prev next

कागजों में ही ठीक हो रही स्ट्रीट लाइट, लोगों को अँधेरे से नहीं मिली मुक्ति

गाज़ियाबाद। एक माह से सेक्टर-एक एलआइजी में स्ट्रीट लाइट (एलइडी) खराब पड़ी है। नगर निगम के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री के जनसुनवाई पोर्टल पर लाइट बदल दिए जाने की आख्या दे दी, जबकि वह बदली नहीं गई। शाम होते ही सड़क पर अंधेरा पसर जाता है।

आरडब्ल्यूए संरक्षक कैलाश चंद्र शर्मा ने बताया कि यहां मकान संख्या-257 के सामने की स्ट्रीट लाइट करीब एक माह से खराब पड़ी है। इससे शाम होते ही सड़क पर अंधेरा फैल जाता है। अंधेरे से लोगों को दिक्कत होती है। महिलाएं व बच्चे ज्यादा परेशान होते हैं। डर के कारण महिलाएं और बच्चे घरों से नहीं निकलते हैं। उन्होंने बताया कि नगर निगम के अधिकारियों से शिकायत कर स्ट्रीट लाइट बदलवाने की मांग की गई। शिकायतों को अधिकारियों ने नजरअंदाज कर दिया। इस पर मुख्यमंत्री के जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत दर्ज करा दी गई।

नगर निगम के अधिकारियों ने पोर्टल पर झूठी आख्या लगा दी। अधिकारियों ने अपनी आख्या में लिख दिया कि लाइट बदलवा कर समस्या का समाधान कर दिया गया है। शिकायतकर्ता से मोबाइल पर वार्ता भी कर ली गई है। उन्होंने बताया कि ऐसा कुछ नहीं हुआ है। अब भी स्ट्रीट लाइट खराब पड़ी है। मामले की वह दोबारा से मुख्यमंत्री को शिकायत करेंगे। वहीं, नगर निगम के वसुंधरा जोनल प्रभारी सुनील राय ने बताया कि मामला संज्ञान में नहीं है। जांच कर समस्या का समाधान कराया जाएगा।

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।