ताज़ा खबर :
prev next

न्याय नहीं मिलने से नाराज रिटायर्ड सूबेदार ने पत्नी संग दी आत्मदाह की चेतावनी

गाज़ियाबाद। जिला प्रशासन से इच्छा मृत्यु माँगने वाले रिटायर्ड सूबेदार को जिलाधिकारी व एसएसपी के आदेश के बावजूद न्याय नहीं मिल सका है। पांच माह पूर्व गोलीकांड का शिकार हुआ रिटायर्ड सूबेदार के आरोपियों के खिलाफ डेढ़ माह पूर्व क्राइम ब्रांच को जांच सौंपी गयी। क्राइम ब्रांच पर शिकायत का निस्तारण ना हो पाने पर दुखी हो चुके रिटायर्ड सूबेदार ने मुख्यमंत्री को शिकायती पत्र देकर अवगत कराया है कि यदि उसे न्याय नहीं मिला तो वह पत्नी संग आत्मदाह करने को मजबूर होगा।

मूलत: मेरठ के कंकरखेडा क्षेत्र के न्यू सैनिक कालोनी निवासी महावीर सिंह त्यागी सेना के पूर्व हवलदार पद से रिटायर्ड होकर यहां सीकरीकला स्थित पिंक सिटी में रहता है। पांच माह पूर्व चार नवंबर की सुबह उन पर मोटर साईकिल सवार युवकों ने जानलेवा हमला बोल दिया, जिससे उनके शरीर मे गोली लग गयी। गोली कांड में अज्ञात लोगों के विरूद्ध मामला दर्ज हुआ।

जांच के दौरान मामला सामने आया कि एक प्रॉपर्टी डीलर ने पूर्व सैनिक का मेरठ का मकान कोे बिकवाकर उसकी आयी रकम में से 40 लाख रुपए हड़प लिये, जिसे लेकर हुई कहासुनी के चलते साजिश रचकर गोलीकांड की घटना को अंजाम दिया गया। इस मामले में घायल सैनिक की ओर से एक महिला सहित नामचीन प्रॉपर्टी डीलर सतीश प्रजापति सहित तीन के नाम उजागर हुए।

खास बात यह रही कि पिता की गोली लगने की जानकारी मिलने पर सेना में ही कार्यरत पूर्व सैनिक का पुत्र उन्हे देखने आया, पुत्र भी सेना में कार्यरत है। जिसकी जानकारी मिलने पर पुलिस ने आरोपी पक्ष से साँठगांठ कर गोलीकांड की सजिश में शमिल महिला की ओर से पुलिस ने छेड़छाड़ व अभद्रता मामले में पूर्व सैनिक के पुत्र का ही नाम दर्जकर लिया। पीड़ित रिटायर्ड सूबेदार का यह मामला जिलाधिकारी रीतू माहेश्वरी व तत्कालीन एसएसपी हरिनारायण सिंह के समक्ष पहुंचा।

इस मामले पर एसएसपी ने डेढ़ माह पूर्व छह फरवरी को जांच क्राइम ब्रांच को सौंप दी। क्राइम ब्रांच के दरोगा बीएल भार्गव को पीड़ित ने नामजद आरोपियों की धमकी व पुलिस को दिये गये लाखों रूपयों के बारे में बताने के मामले में फोन रिकार्डिंग की सीडी सौंप दी। उसके बाबजूद पीड़ित पक्ष के बेटे के विरूद्ध दुष्कर्र्म के प्रयास का मामले में कोई कार्यवाही अभी तक नहीं हो पायी है और ना ही पीड़ित सूबेदार की शिकायत का निस्तारण हो सका है। पांच माह से पुलिस व जनप्रतिनिधियों के चक्कर काटकर हार थक चुके रिटायर्ड सूबेदार महावीर सिंह त्यागी ने मुख्यमंत्री को पत्र भेजा है कि यदि उसे न्याय नहीं मिला तो वह अपनी पत्नी निर्मला देवी संग आत्मदाह करने को मजबूर होगा।

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।