ताज़ा खबर :
prev next

जंगल में पड़ी मिली थी नवजात बच्ची, PRV की मदद से बची जान

बदायूं। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ का नारा पूरे देश में दिया जा रहा है। इसके बावजूद बेटियों का जन्म होते ही उन्हें बेमौत मरने के लिए जानवरों के बीच छोड़ दिया जा रहा है। बदायूं के थाना जरीफनगर के गांव जरैटा के जंगल में इसी तरह का मामला सामने आया है। यहां खेत में नवजात बच्ची मिली। वहीं फरिश्ता बनकर मौके पर पहुंची PRV 1323 की गाड़ी ने नवजात बच्ची की जान बचाई। बच्ची की हालत अब खतरे से बाहर बताई जा रही है।

पूरी घटना बदायूं के जरीफनगर की है। खेत की तरफ गेहूं काटने गए ग्रामीणों ने जब बच्ची के रोने की आवाज सुनीं तो उस तरफ दौड़ पड़े। नवजात कन्या को कपड़े में लिपटी हुई देखा तो उन्होंने यूपी 100 पुलिस को सूचना दी। पुलिस की पीआरवी गाड़ी ने तत्काल मौके पर पहुंचकर नवजात कन्या को सीएससी दहगवां पहुंचाया। यहाँ डॉ.राजेश ने उसके स्वास्थ्य का परीक्षण किया। अस्पताल में मौजूद नर्स और आया ने उसे गोद में लेकर देखभाल करनी शुरू कर दी है। डॉक्टर ने बताया कि कन्या स्वस्थ है और उसे जिला अस्पताल बच्चा वार्ड में भेजा जाएगा ताकि उचित उसकी देखभाल हो सके। डॉक्टर ने बताया कि यदि पीआरवी की गाड़ी मौके पर नही पहुँचती तो कुछ भी हो सकता था।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।