ताज़ा खबर :
prev next

शाबाश इंडिया – 6 साल के कैंसर पीड़ित बच्चे की मदद के लिए बस ड्राईवरों और बच्चों ने मिलकर जुटाये ₹ 12 लाख

गाज़ियाबाद | समय-समय पर हम अपने पाठकों को ऐसे लोगों और संस्थाओं के बारे में बताते रहते हैं जो समाज की भलाई के लिए बिना किसी प्रचार की आस के मदद करते हैं। ऐसे ही लोगों के कारण दुनिया में इंसानियत का वजूद कायम है। आज हम आपको केरल के एक ऐसे कैंसर पीड़ित बच्चे के बारे में बता रहे हैं जिसकी मदद के लिए इलाके के सभी बस ड्राइवरों, कंडक्टरों और बच्चों ने 12 लाख रुपये की भारी-भरकम रकम चुटकियों में जमा कर डाली।

यहाँ कोझिकोड जिले के पेरंबरा गाँव का रहने वाला 6 साल का ऋत्विन ब्लड कैंसर का मरीज है। ऋत्विन के पिता मुंडोथ कोरोथ्मीथल की आर्थिक हालत ऐसी नहीं थी कि वे अपने बच्चे की बीमारी का इलाज अपने बल पर करा सकें। ऋत्विन की इस बीमारी के बारे में जब उसके स्कूल बस के ड्राईवर को पता चला तो उसने अपने साथी बस कंडक्टरों और ड्राईवरों से इसके बारे में चर्चा की और ऋत्विन के इलाज के लिए आपस में चंदा एकत्र करना शुरू किया। थोड़े ही दिनों में बात स्कूल के बच्चों में फ़ेल गई और बस फिर क्या था, स्कूल के बच्चों ने अपने जेबखर्च के पैसे भी चंदे में देने शुरू कर दिए। ऋत्विन मदद के लिए नाडुवन्नुर साउथ एएमयूपी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के माता-पिता भी आगे आए।

यही नहीं इलाके में चलने वाली बसों के ड्राईवरों ने भी अपनी-अपनी बसों पर बैनर लगाकर ऋत्विन की मदद के लिए पैसे मांगना शुरू कर दिया। जिसका असर यह हुआ कि बस में सफर करने वाली बहुत सी सवारियों ने टिकट खरीदने के बाद बचे हुए पैसों को ऋत्विन की मदद के लिए देना शुरू कर दिया। थोड़े ही दिनों में सभी ने मिलकर 12 लाख रुपये इकट्ठे कर डाले जो ऋत्विन के निर्बाध इलाज के लिए काफी थे। आशा है हमारी इस खबर को पढ़कर बहुत से पाठकों को प्रेरणा मिलेगी और वे भी अपने-अपने क्षेत्र में जरूरतमन्द लोगों की मदद के लिए आगे आएंगे।

हमारा न्यूज़ चैनल सबस्क्राइब करने के लिए यहाँ क्लिक करें।
Follow us on Facebook http://facebook.com/HamaraGhaziabad
Follow us on Twitter http://twitter.com/HamaraGhaziabad
Subscribe to our News Channel