ताज़ा खबर :
prev next

सात वर्ष पहले हुई हत्या के मामले में 6 को उम्रकैद

गाज़ियाबाद। अदालत ने सात वर्ष पूर्व हुई हत्या के मामले में दोषी अभियुक्तों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। सभी अभियुक्तों को 10-10 हजार रुपये का अर्थदंड भी लगाया गया है। लोनी क्षेत्र में वर्ष 2011 में बच्चों के विवाद में यह वारदात हुई थी। अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश-1 शशि भूषण पांडेय की अदालत ने शुक्रवार को इस मामले में फैसला सुनाया। अदालत ने पुख्ता साक्ष्यों व गवाहों के आधार पर जावेद, चांद, उसके पिता दिलदार, रिश्तेदार नदीम, आदिल व सोनी को उम्रकैद की सजा सुनाई है।

सहायक जिला शासकीय अधिवक्ता अनिल शर्मा ने बताया कि घटना के दिन 26 अगस्त 2011 को अजहर (10) घर के बाहर साइकिल चला रहा था। इसी दौरान उसकी साइकिल ताजीम की साइकिल से टकरा गई। कहासुनी होने के बाद दोनों के परिजन तक विवाद पहुंच गया। अजहर के पिता रिफाकत ने ताजीम को डांट दिया था। इसके कुछ समय बाद ताजीम के भाई जावेद, चांद, उसके पिता दिलदार, रिश्तेदार नदीम, आदिल व सोनी लाठी डंडों से लैस होकर अजहर के घर में घुसे और पिता रिफाकत को गाली-गलौज कर उसपर जानलेवा हमला कर दिया। रिफाकत की इलाज के दौरान मौत हो गई थी।

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।