ताज़ा खबर :
prev next

नाश्ता छोड़ने की आदत आपको कर सकती है दिमागी तौर पर बीमार

गाज़ियाबाद। बीमारियों से बचाव और वजन पर नियंत्रण रखने के लिए कुछ लोग व्यायाम करते हैं। वहीं, कई लोग नाश्ता किए बगैर ऑफिस चले जाते हैं। ऐसे लोगों को नाश्ता न करना महंगा पड़ सकता है। चिकित्सकों का कहना है कि नाश्ता नहीं करने से दिमाग पर बुरा असर पड़ सकता है।

विभिन्न अस्पतालों के डॉक्टरों का इस बारे में क्या कहना है आइये जानते हैं:

सुबह नाश्ता नहीं करने से शरीर में मेटाबॉलिज्म धीमा हो जाता है। जिसकी वजह से वजन बढ़ने जैसी कई दिक्कतें होनी लगती हैं। जबकि सुबह नाश्ता करने से मस्तिष्क क्रियाएं ठीक तरीके से काम करती हैं। दिल्ली जैसे महानगरों में रहने वाले लोग भागदौड़ भरी जिंदगी जीते हैं। ऑफिस पहुंचने की जल्दी में लोग नाश्ता नहीं करते और  लंच के समय ज्यादा खाना खा लेते हैं जिसकी वजह से वजन बढ़ने की भी शिकायत होती है।
बत्रा अस्पताल के न्यूरोलॉजिस्ट डा. एस के चौधरी ने बताया कि अमेरिकन स्टडी के मुताबिक ऐसे लोगों में 27 फीसदी हार्ट अटैक का खतरा ज्यादा होता है। वहीं, मैक्स अस्पताल के डा. रजनीश मल्होत्रा का कहना है कि इससे टाइप 2 मधुमेह बढ़ने की आशंका भी कई गुना बढ़ जाती है। दिल्ली सरकार के जीबी पंत सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल के न्यूरो विशेषज्ञ डा. दलजीत सिंह बताते हैं कि नाश्ता न करने से दिमाग को पर्याप्त न्यूट्रीशन और एनर्जी नहीं मिल पाती। जिसके कारण मस्तिष्क पर बुरा असर पड़ता है। कई बार किसी काम में मन न लगने की परेशानी भी हो सकती है।

इतना ही नहीं डॉक्टरों की मानें तो रातभर पेट खाली रहने के कारण उसमें एसिड की मात्रा बढ़ जाती है। ऐसे में सुबह कुछ भी न खाने पर गैस की परेशानी हो सकती है। इन बातों से यही साबित होता है कि सुबह का नाश्ता हमारी सेहत के लिए कितना ज़रूरी है, इसलिए भले ही दिन और रात में से एक वक्त का खाना छूट जाए लेकिन सुबह का नाश्ता कभी भी स्किप नहीं करना चाहिए।

 

आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो भी कर सकते हैं।