ताज़ा खबर :
prev next

अभिव्यक्ति

राष्ट्रीय प्रेस दिवस : समय के साथ प्रेस का बदलता स्वरुप

गाज़ियाबाद। प्रथम प्रेस आयोग ने भारत में प्रेस की स्वतंत्रता की रक्षा एवं पत्रकारिता में उच्च आदर्श कायम करने के उद्देश्य से एक प्रेस परिषद की कल्पना की थी। परिणाम स्वरूप चार जुलाई 1966 को भारत में प्रेस परिषद की स्थापना की … Continue reading “राष्ट्रीय प्रेस दिवस : समय के साथ प्रेस का बदलता स्वरुप”


जानिये क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय सांकेतिक भाषा दिवस

गाज़ियाबाद। कई बार हम अपनी बातों को इशारों से व्यक्त करते हैं। यह भी अपने आप में एक कला है। हमारे देश में कई लोग हैं जो लोग सुन या बोल नहीं सकते। उनके हाथों, चेहरे और शरीर के हाव-भाव … Continue reading “जानिये क्यों मनाया जाता है अंतरराष्ट्रीय सांकेतिक भाषा दिवस”


₹25 हज़ार से सस्ते स्मार्टफोन, जानिए खरीदें कौन सा मॉडेल और क्या हैं उनकी खूबियाँ

जब बात स्मार्टफोन खरीदने की आती है तो अब ₹25 हज़ार तक के फोन भी अब अधिकतर मध्यम आयवर्गीय परिवारों के बजट में फिट बैठ जाते हैं। लेकिन अब समस्या है फोन खरीदें तो कौन सा! बाज़ार में 20 से … Continue reading “₹25 हज़ार से सस्ते स्मार्टफोन, जानिए खरीदें कौन सा मॉडेल और क्या हैं उनकी खूबियाँ”


प्रतिबंध हुआ बेअसर, बढ़ रही है ऑनलाइन अश्लील सामग्री देखने वालों की संख्या

भारत सरकार ने इंटरनेट सर्विसेस प्रोवाइडर्स को 827 पोर्न वेबसाइट्स (अश्लील सामग्री दिखाने वाली) ब्लॉक करने का आदेश दिया था। परन्तु हम हिंदुस्तानियों ने सरकार द्वारा लगाए गए प्रतिबंध को अंगूठा दिखाते हुए अपनी काम-पिपासा शांत करने के लिए नए … Continue reading “प्रतिबंध हुआ बेअसर, बढ़ रही है ऑनलाइन अश्लील सामग्री देखने वालों की संख्या”


एक बेटे की खातिर 7 डिलीवरी और 2 अबॉरशन सहने वाली माँ की मौत, क्या हम वाकई 21वीं सदी में हैं?

हर आने वाले नए साल से हर बार बेहतरी की उम्मीद की जाती है। हम 21वीं सदी में हैं और साल 2019 की शुरुआत हो चुकी है। लेकिन अब भी लगता है जैसे समाज का एक वर्ग अभी भी सदियों … Continue reading “एक बेटे की खातिर 7 डिलीवरी और 2 अबॉरशन सहने वाली माँ की मौत, क्या हम वाकई 21वीं सदी में हैं?”


मेरे प्रेरणा के स्रोत हैं सीएम योगी आदित्यनाथ : क्रिकेटर सुमित

स्वच्छता मानवीय गुणों में सबसे महत्वपूर्ण घटक है। यह स्वच्छता ही तो है, जो किसी व्यक्ति को या समाज को ईश्वर के करीब ले जाती है। इन्हीं वाक्यों को सुमित ने अपना ध्येय बना लिया व जब प्रधानमंत्री ने स्वच्छता … Continue reading “मेरे प्रेरणा के स्रोत हैं सीएम योगी आदित्यनाथ : क्रिकेटर सुमित”


सुप्रीम कोर्ट ने रामजन्म भूमि मामले की जल्द सुनवाई से किया इंकार, हिन्दू महासभा की याचिका खारिज

सुप्रीम कोर्ट ने रामजन्म भूमि – विवादित ढांचा मामले में जल्द सुनवाई से इनकार कर दिया है। इस मामले में अखिल भारतीय हिंदू महासभा की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की गई थी। इस याचिका में रामजन्म भूमि … Continue reading “सुप्रीम कोर्ट ने रामजन्म भूमि मामले की जल्द सुनवाई से किया इंकार, हिन्दू महासभा की याचिका खारिज”


कम्यूनिटी पोलिसींग से बदल रहे हैं आईपीएस आसिफ शेख छत्तीसगढ़ के युवाओं की तकदीर

जब भी हम पुलिस के बारे में सोचते हैं, तो हमारे भीतर डर की भावना आने लगती है। बच्चों को हमेशा से बताया जाता है कि तुम होमवर्क कर लो नहीं तो पुलिस अंकल आकर पकड़ लेंगे। आम आदमी के … Continue reading “कम्यूनिटी पोलिसींग से बदल रहे हैं आईपीएस आसिफ शेख छत्तीसगढ़ के युवाओं की तकदीर”


अब सिर्फ 12 दिनों के लिए ही मिलेगा H1-B वीसा, ट्रम्प सरकार ने बनाया नया नियम

हजारों की संख्या में भारत के आईटी फर्म में काम करने वाले इंजीनियर अमेरिका जाते हैं, ऐसे में उन्हें H1-B वीजा उपलब्ध कराया जाता है। लेकिन अमेरिकी प्रशासन द्वारा अब इस वीजा की अवधि को काफी कम कर दिया गया … Continue reading “अब सिर्फ 12 दिनों के लिए ही मिलेगा H1-B वीसा, ट्रम्प सरकार ने बनाया नया नियम”


आइए सीखें – बच्चों का आत्मविश्वास कैसे बढ़ाएँ !

उम्र भले ही कितनी भी क्यों ना हो लेकिन आत्मविश्वास हर उम्र में बेहतर जीवन जीने के लिए जरूरी होता है और अगर उम्र बचपन की हो तो इस सेल्फ कॉन्फिडेंस को बढ़ाना और भी जरूरी हो जाता है ताकि … Continue reading “आइए सीखें – बच्चों का आत्मविश्वास कैसे बढ़ाएँ !”


पैदा करने वाली माँ ने फेंक दिया था कुढ़े के ढेर में, 27 साल की अनब्याही लड़की बनी बच्चियों की माँ

वह पढ़ने के लिए लड़ी, शादी न करने के लिए लड़ी, डॉक्‍टर बनने के लिए लड़ी और फिर दो बच्चियों की बिनब्‍याही मां बनने के लिए लड़ी। पढ़िए कहानी बिना शादी दो लड़कियों को गोद लेने वाली डॉ. कोमल यादव … Continue reading “पैदा करने वाली माँ ने फेंक दिया था कुढ़े के ढेर में, 27 साल की अनब्याही लड़की बनी बच्चियों की माँ”


बच्चों से मातृभाषा में बातें करने से बुद्धि का होता है तेज़ी से विकास

अब इसे सैंकड़ों सालों की गुलामी का असर कहें या कुछ और, हम हिंदुस्तानियों में अपने बच्चों को अँग्रेजी सिखाने की होड़ लगी रहती है। मेहमानों के सामने बच्चों से अँग्रेजी में बात करना शान की बात समझी जाती है। … Continue reading “बच्चों से मातृभाषा में बातें करने से बुद्धि का होता है तेज़ी से विकास”


क्यों कांग्रेस के लिए भारी है गले मिलना? राहुल के बाद सिद्धू फंसे गले लगाकर

किसी से भी गले मिलना बहुत अच्छी बात है लेकिन कांग्रेस पार्टी के लिए गले लगाना एक मुसीबत बनाता जा रहा है। पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी को गले लगाने के बाद आँख मरने के कारण आलोचना … Continue reading “क्यों कांग्रेस के लिए भारी है गले मिलना? राहुल के बाद सिद्धू फंसे गले लगाकर”


क्यों मजबूर हुए एथिस्ट सीताराम येचूरी कलश यात्रा के लिए, जानिए इस वायरल तस्वीर के पीछे का सच

कम्युनिस्ट पार्टियों द्वारा केरल में “रामायण माह” मनाने के फैसले के कुछ दिन बाद ही सीपीआई (एम) के राष्ट्रीय महासचिव सीताराम येचूरी की एक ऐसी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसमें वे सर पर फूलों से भरा … Continue reading “क्यों मजबूर हुए एथिस्ट सीताराम येचूरी कलश यात्रा के लिए, जानिए इस वायरल तस्वीर के पीछे का सच”


और कितना अपमानित करोगे राष्ट्रध्वज को

गाज़ियाबाद के बुलंदशहर रोड औद्योगिक क्षेत्र में स्थित श्यामा प्रसाद मुखर्जी पार्क में आज सुबह एक बार फिर से फटा हुआ झण्डा लहरा रहा था। हालांकि सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद निगम ने झण्डा बदलवा दिया मगर, … Continue reading “और कितना अपमानित करोगे राष्ट्रध्वज को”