ताज़ा खबर :
prev next

Tag: #GNN

नगर निगम से करोड़ों रुपए लेकर गायब हुई कंपनी, गाज़ियाबाद में बंद पड़ी हैं 14 हज़ार एलईडी स्ट्रीट लाइटें

सड़कों पर स्ट्रीट लाइटें लगाने के नाम पर गाज़ियाबाद नगर निगम से 3.37 करोड़ रुपए लेकर मैसर्स व्हाइट प्लाकार्ड टेक्नालजी प्राइवेट लिमिटेड नाम की एक कंपनी गायब हो गई है। हालांकि एक माह पहले नगर निगम ने कंपनी को एक … Continue reading “नगर निगम से करोड़ों रुपए लेकर गायब हुई कंपनी, गाज़ियाबाद में बंद पड़ी हैं 14 हज़ार एलईडी स्ट्रीट लाइटें”


गाज़ियाबाद – प्रशासन बनाएगा जिले की सड़कों की कुंडली, फर्जी भुगतानों पर लगेगा अंकुश

जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने सड़क निर्माण में अनियमितता बरतने वाले ठेकेदारों पर नजर रखने के लिये एक जिला सड़क नियंत्रण समिति बनाई है। यह समिति हर सड़क का डेटाबेस ‘सड़क कुंडली’ नाम से तैयार करेगी। इसमें सड़क का नंबर, … Continue reading “गाज़ियाबाद – प्रशासन बनाएगा जिले की सड़कों की कुंडली, फर्जी भुगतानों पर लगेगा अंकुश”


नगरायुक्त दिनेश चंद्र अचानक पहुंचे गोविंदपुरम, गंदगी देख अधिकारियों की ली क्लास

नगरायुक्त दिनेश चंद्र ने आज कविनगर ज़ोन, सिटी ज़ोन, मोहन नगर ज़ोन और नंदी पार्क का औचक निरीक्षण किया। कविनगर जोन के निरीक्षण के समय उन्होंने गोविन्दपुरम क्षेत्र में चारों तरफ गंदगी देखी। जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हुए पाये … Continue reading “नगरायुक्त दिनेश चंद्र अचानक पहुंचे गोविंदपुरम, गंदगी देख अधिकारियों की ली क्लास”


BSR इंडस्ट्रियल एरिया में जारी है अवैध पार्किंग का खेल, हर महीने होता है लाखों का हेरफेर

गाज़ियाबाद के सबसे बड़े औद्योगिक क्षेत्रों में से एक बुलंदशहर रोड इंडस्ट्रियल एरिया में पिछले कई वर्षों से अवैध पार्किंग का खेल चल रहा है। इस गोरखधंधे में शामिल कुछ दबंग हर महीने गाज़ियाबाद नगर निगम को लाखों रुपए का … Continue reading “BSR इंडस्ट्रियल एरिया में जारी है अवैध पार्किंग का खेल, हर महीने होता है लाखों का हेरफेर”


अवैध पार्किंग बनाने वालों की अब खैर नहीं, नगर निगम ने जुर्माने की राशि बनाई चार गुना

गाज़ियाबाद नगर निगम ने सरकारी भूमि पर अवैध पार्किंग चलाने वालों का जुर्माना 4 गुना बढ़ा दिया है। सोमवार को निगम की कार्यकारिणी बैठक में सरकारी भूमि पर हो रहे अतिक्रमण को कम करने के उद्देश्य से महापौर आशा शर्मा … Continue reading “अवैध पार्किंग बनाने वालों की अब खैर नहीं, नगर निगम ने जुर्माने की राशि बनाई चार गुना”